Thursday, December 22, 2011

betiya


बेटे और बेटी में ,

भेद मत कीजिये |

बेटियों को जीने का

अधिकार आप दीजिये |

इंदिरा और कल्पना की,

उड़ान हमने देखी है |

अब अपनी सायना की

शान अब देखिये |

एक दिन नाम यह

तुम्हारा कर जाएँगी

बस एक बेटी घर में

आंगन मे आने पर

घर एक बगिया बन जाएगी ||