Saturday, October 8, 2011

Pyaari Betiyaan


ओस की एक बूँद सी होती है बेटिया ,

स्पर्श खुरदरा हो तो रोटी है बेटियां ..
रोशन करेगा बेटा तो एक कूल को …
दो - दो कुलों को की लाज होती है बेटियां …
कोई नहीं है एक दुसरे से कम ..
हीरा अगर है बेटा ..
तो सच्चा मोती है बेटियां ..
काँटों की रह पर यह खुद ही चलती है …
औरों के लिए फूल होती है बेटिया . .
विधि का विधान है ..
यही दुनिया की रसम है ..
मुठी भर नीर सी होती है बेटियां