Sunday, October 23, 2011

betiya


"अगर बेटा वारस है, तो बेटी पारस है |
अगर बेटा वंश है, तो बेटी अंश है
अगर बेटा आन है, तो बेटी शान है
अगर बेटा तन है, तो बेटी मन है
अगर बेटा मान है, तो बेटी गुमान है
अगर बेटा आग है, तो बेटी बाग़ है
अगर बेटा दवा है, तो बेटी दुआ है
अगर बेटा भाग्य है, तो बेटी विधाता है
अगर बेटा शब्द है, तो बेटी अर्थ है
अगर बेटा गीत है, तो बेटी संगीत है ||"