Friday, September 27, 2013

bitiya

"त्याग की सूरत है बेटी
ममता की मूरत है बेटी||
सस्कारों की जान है बेटी
हर घर की तो शान है बेटी||
खुशियों का संसार है बेटी
प्रेम का आधार है बेटी||
शीतल सी एक हवा है बेटी
सब रोगों की दवा है बेटी||
ममता का सम्मान है बेटी
मात-पिता का मान है बेटी||
आँगन की तुलसी है बेटी
पूजा की कलसी है बेटी||
सृष्टि है, शक्ति है बेटी
दृष्टि है, भक्ति है बेटी
श्रद्धा है, विश्वास है बेटी||"